Топ-100
पिछला

ⓘ अंतरिक्ष. किसी ब्रह्माण्डीय पिण्ड, जैसे पृथ्वी, से दूर जो शून्य void होता है उसे अंतरिक्ष Outer space कहते हैं। इस परिभाषा के अनुसार अंतरिक्ष में धरती के वायुमं ..




                                               

क्षुद्रग्रह

क्षुद्रग्रह अथवा ऐस्टरौएड एक खगोलिय पिंड होते है जो ब्रह्माण्ड में विचरण करते रहते हे। यह आपने आकार में ग्रहो से छोटे और उल्का पिंडो से बड़े होते है। खोजा जाने वाला पहला क्षुद्रग्रह, सेरेस, 1819 में ग्यूसेप पियाज़ी द्वारा पाया गया था और इसे मूल रूप से एक नया ग्रह माना जाता था। इस लेख में, "एस्टरॉयड" शब्द का अर्थ आंतरिक सौर मंडल के छोटे ग्रहों को संदर्भित करता है जिसमें उन सह-कक्षाओं में बृहस्पति शामिल हैं। वहाँ लाखों क्षुद्रग्रह हैं, बहुत से ग्रहों के बिखर अवशेष, सूर्य के सौर नेब्यूला के भीतर निकाले जाने वाले शरीर के रूप में माना जाता है, जो कि ग्रह बनने के लिए बड़े पैमाने पर कभी बड़ा नहीं ...

                                               

ग्रह

सूर्य या किसी अन्य तारे के चारों ओर परिक्रमा करने वाले खगोल पिण्डों को ग्रह कहते हैं। अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ के अनुसार हमारे सौर मंडल में आठ ग्रह हैं - बुध, शुक्र, पृथ्वी, मंगल, बृहस्पति, शनि, युरेनस और नेप्चून। इनके अतिरिक्त तीन बौने ग्रह और हैं - सीरीस, प्लूटो और एरीस। प्राचीन खगोलशास्त्रियों ने तारों और ग्रहों के बीच में अन्तर इस तरह किया- रात में आकाश में चमकने वाले अधिकतर पिण्ड हमेशा पूरब की दिशा से उठते हैं, एक निश्चित गति प्राप्त करते हैं और पश्चिम की दिशा में अस्त होते हैं। इन पिण्डों का आपस में एक दूसरे के सापेक्ष भी कोई परिवर्तन नहीं होता है। इन पिण्डों को तारा कहा गया। पर कुछ ...

                                               

धूमकेतु

धूमकेतु सौरमण्डलीय निकाय है जो पत्थर, धूल, बर्फ और गैस के बने हुए छोटे-छोटे खण्ड होते है। यह ग्रहो के समान सूर्य की परिक्रमा करते है। छोटे पथ वाले धूमकेतु सूर्य की परिक्रमा एक अण्डाकार पथ में लगभग ६ से २०० वर्ष में पूरी करते है। कुछ धूमकेतु का पथ वलयाकार होता है और वो मात्र एक बार ही दिखाई देते है। लम्बे पथ वाले धूमकेतु एक परिक्रमा करने में हजारों वर्ष लगाते है। अधिकतर धूमकेतु बर्फ, कार्बन डाईऑक्साइड, मीथेन, अमोनिया तथा अन्य पदार्थ जैसे सिलिकेट और कार्बनिक मिश्रण के बने होते है।

                                               

खगोलीय फोटोग्राफी

खगोलीय पिंडों के अध्ययन में फोटोग्राफी का विशेष महत्वपूर्ण स्थान है। इसके दो कारण हैं--एक तो यह कि फोटोपायस की प्रकाश ग्रहण करने की क्षमता के कारण अत्यंत मंद ज्योतिवाले पिंडों का भी स्पष्ट चित्र पर्याप्त उद्भासन देकर प्राप्त किया जा सकता है। दूसरा यह कि फोटोग्राफ द्वारा प्राप्त चित्र स्थायी होते हैं और उन्हें सूक्ष्म अध्ययन के हेतु सुरक्षित रखा जा सकता है। अत्युक्ति न होगी यदि कहा जाय कि फोटोग्राफी की कला के अभाव में आधुनिक ज्योतिर्विज्ञान का विकास इतनी दूर तक कभी संभव न होता।

                                               

प्राकृतिक उपग्रह

प्राकृतिक उपग्रह या चन्द्रमा ऐसी खगोलीय वस्तु को कहा जाता है जो किसी ग्रह, क्षुद्रग्रह या अन्य वस्तु के इर्द-गिर्द परिक्रमा करता हो। जुलाई २००९ तक हमारे सौर मण्डल में ३३६ वस्तुओं को इस श्रेणी में पाया गया था, जिसमें से १६८ ग्रहों की, ६ बौने ग्रहों की, १०४ क्षुद्रग्रहों की और ५८ वरुण से आगे पाई जाने वाली बड़ी वस्तुओं की परिक्रमा कर रहे थे। क़रीब १५० अतिरिक्त वस्तुएँ शनि के उपग्रही छल्लों में भी देखी गई हैं लेकिन यह ठीक से अंदाज़ा नहीं लग पाया है के वे शनि की उपग्रहों की तरह परिक्रमा कर रही हैं या नहीं। हमारे सौर मण्डल से बाहर मिले ग्रहों के इर्द-गिर्द अभी कोई उपग्रह नहीं मिला है लेकिन वैज्ञ ...

                                               

रॉकेट

रॉकेट एक प्रकार का वाहन है जिसके उड़ने का सिद्धान्त न्यूटन के गति के तीसरे नियम क्रिया तथा बराबर एवं विपरीत प्रतिक्रिया पर आधारित है। तेज गति से गर्म वायु को पीछे की ओर फेंकने पर रॉकेट को आगे की दिशा में समान अनुपात का बल मिलता है। इसी सिद्धांत पर कार्य करने वाले जेट विमान, अंतरिक्ष यान एवं प्रक्षेपास्त्र विभिन्न प्रकार के राकेटों के उदाहरण हैं। रॉकेट के भीतर एक कक्ष में ठोस या तरल ईंधन को आक्सीजन की उपस्थिति में जलाया जाता है जिससे उच्च दाब पर गैस उत्पन्न होती है। यह गैस पीछे की ओर एक संकरे मुँह से अत्यन्त वेग के साथ बाहर निकलती है। इसके फलस्वरूप जो प्रतिक्रिया उत्पन्न होती है वह रॉकेट को ...

अंतरिक्ष
                                     

ⓘ अंतरिक्ष

किसी ब्रह्माण्डीय पिण्ड, जैसे पृथ्वी, से दूर जो शून्य void होता है उसे अंतरिक्ष Outer space कहते हैं। इस परिभाषा के अनुसार अंतरिक्ष में धरती के वायुमंडल को भी शामिल कर सकते हैं। लेकिन हिन्दी अर्थ में प्रायः वायुमंडल को शामिल नहीं किया जाता। वास्तव में अंतरिक्ष इतना बड़ा है कि हम इसकी कल्पना भी नहीं कर सकते|

                                     
  • वह य न ज क अन तर क ष अथव व य म म ज न क क म आत ह उस अ तर क ष य न अ ग र ज Spacecraft कहत ह अ तर क ष य न अन क क र य क ल य उपय ग
  • भ रत य अन तर क ष अन सन ध न स गठन, स क ष प म - इसर अ ग र ज Indian Space Research Organisation, ISRO भ रत क र ष ट र य अ तर क ष स स थ न ह ज सक
  • अ तर क ष व भ ग भ रत सरक र क एक व भ ग ह ज भ रत य अ तर क ष अभ य न क प रब धन स ज ड ह य अ तर क ष क ख ज स ज ड अन क एज स य और स स थ न क
  • सत श धवन अ तर क ष क द र, भ रत य अ तर क ष अन स ध न स गठन इसर क प रक ष पण क द र ह यह आ ध र प रद श क श र हर क ट म स थ त ह इस श र हर क ट र ज
  • भ रत य अ तर क ष अन स ध न स गठन क गठन क य गय ज क प र रम भ म अ तर क ष म शन क अ तर गत क र यरत थ और पर ण मस वर प ज न, म अ तर क ष व भ ग क
  • क प लर अ तर क ष य न अ ग र ज Kepler spacecraft अम र क अ तर क ष अन सन ध न स स थ न, न स क एक अ तर क ष य न ह ज सक क म स रज स अलग क त उस तरह
  • ल यक जगह बन ग अ तरर ष ट र य स प स स ट शन अ तर क ष म स थ त एक व धश ल क त र पर क र य करत ह अन य अ तर क ष य न क म क बल इसक कई फ यद ह ज सम
  • अ तर क ष पर यटन पर यटन क नई स स क त ह ज उन घ मन त पर यटक क ल ए ह ज घ मन क ल ए र म च क हद तक ज सकत ह इस प रक र क पर यटक घ मन क ल ए
  • अ तर क ष य त र य अ तर क ष अन व षण ब रह म ण ड क ख ज और उसक अन व षण अ तर क ष क तकन क क उपय ग करक करन क कहत ह अ तर क ष क श र र क त र पर अन व षण
  • हबल अ तर क ष द रदर श Hubble Space Telescope HST व स तव म एक खग ल य द रदर श ह ज अ तर क ष म क त र म उपग रह क र प म स थ त ह इस अप र ल
                                     
  • अ तर क ष और ऊपर व य म डल अन स ध न आय ग Space and Upper Atmosphere Research Commission or SUPARCO प क स त न सरक र क र ष ट र य अ तर क ष एज स ह ज स
  • स प ट ज र अ तर क ष द रदर श Spitzer Space Telescope एक खग ल य द रदर श ह ज अ तर क ष म क त र म उपग रह क र प म स थ त ह यह ब रह म ण ड क व भ न न
  • अ तर क ष उपय ग क द र Space Application Centre SAC स क भ रत य अ तर क ष अन स ध न क द र इसर क प रम ख क द र म स एक ह यह अपन तरह क एक
  • य र प य अ तर क ष अभ करण य य र प यन स प स एज स ईस सदस य द श क एक म ल ज ल सम ह ह ज क अ तर क ष स ज ड गत व ध य स च ल त करत ह इसक
  • अ ग र ज Galileo एक अम र क अ तर क ष य न थ ज क ब हस पत ग रह क अन व षण करत थ ग ल ल य अम र क अ तर क ष अन स ध न स स थ न स द व र अ तर क ष शटल अटल ट स स
  • व ज ञ न क अ तर क ष म पह चत ह अ तर क ष य त र य क ख न - प न और यह तक क मन र जन क स ज - स म न और व य य म क उपकरण भ लग ह त ह अ तर क ष शटल क
  • स व यत अ तर क ष य न थ ज सक 1960 क दशक म कल पन क थ इसक प रय ग स न य अ तर क ष स ट शन अल म ज तक रसद क स म न पह चन म क य ज त अ तर क ष य न
  • व ज ञ न, अन य ग रह क ज व व ज ञ न, एस ट र न ट क स अ तर क ष य त र अ तर क ष औपन व श करण और अ तर क ष रक ष ल इब र र ऑफ क ग र स और ड व दशमलव प रण ल
  • व स कह ड Voskhod एक म नवय क त अ तर क ष य न थ ज स स व यत स घ द व र म नव अ तर क ष उड न क ल ए त य र क य गय थ यह व स कह ड क र यक रम क ह स स
  • अन तर ग रह य अ तर क ष उड न interplanetary spaceflight य अन तर ग रह य य त र interplanetary travel ग रह क ब च क स य न क अ तर क ष उड न क कहत
  • र स स घ य अ तर क ष अभ करण य रश यन फ डरल स प स एज स र स क सरक र अ तर क ष अभ करण ह ज क र स म अ तर क ष स ज ड गत व ध य स च ल त करत ह इस
  • भ रत य म नव अ तर क ष उड न क र यक रम Indian human spaceflight programme भ रत य अ तर क ष अन स ध न स गठन इसर द व र प थ व क न चल कक ष एक - द व यक त
                                     
  • ड स कवर अ तर क ष य न ऑर ब टर व हन पदन म: OV - 103 अम र क अ तर क ष स स थ न स क ब ड म त न वर तम न म पर च ल त पर क र मक आर ब टर स म स एक
  • अ तर क ष उड न space flight अ तर क ष म ग ज रन व ल प रक ष प क उड न ह त ह अ तर क ष उड न म अ तर क ष य न क प रय ग ह त ह ज म नव - सह त य
  • ब रह म ण ड तक ह अ तर क ष अन स ध न म प थ व व ज ञ न, पद र थ व ज ञ न, ज वव ज ञ न, च क त स श स त र और भ त क सभ महत वप र ण ह अ तर क ष अ तर क ष व ज ञ न भ रत य
  • व क रम स र भ ई अ तर क ष क द र अ ग र ज Vikram Sarabhai Space Centre इसर क सबस बड एव सर व ध क महत वप र ण क द र ह यह त र वन तप रम म स थ त
  • ज न अ ग र ज Juno अम र क अ तर क ष अन सन ध न पर षद न स द व र हम र स र म डल क प चव ग रह, ब हस पत पर अध ययन करन क ल ए प थ व स अगस त
  • भ रत य गहन अ तर क ष न टवर क Indian Deep Space Network य IDSN बड ए ट न और स च र स व ध व ल एक भ रत य न टवर क ह भ रत क ग रह क अ तर क ष य न म शन
  • ऊपर ज कर अ तर क ष म प रव श कर वर तम न क ल म यह अध कतर व श व क क छ सरक र द व र चल ए ज रह अ तर क ष श ध क र यक रम क अ तर गत अ तर क ष - य न म
  • च न र ष ट र य अ तर क ष प रश सन य च इन न शनल स प स एडम न सट र शन स एन एस ए च न क सरक र अ तर क ष स स थ ह ज क द श म अ तर क ष क र यक रम क

यूजर्स ने सर्च भी किया:

क्षुद्रग्रह, कहत, षदरगरह, english, षदरगरहकसकहतह, कषदरगरह, कषदरगरहinenglish, ग्रह, कतन, बहसपत, गरह, गरहण, उपगरह, करम, बहसपतगकतनउपगरहह, रयसगरहकरम, धूमकेतु, धमकत, हलधमकत, धमकतinenglish, खगोलीय फोटोग्राफी, टगरफ, खगलय, खगलयटगरफ, प्राकृतिक उपग्रह, पथव, सखय, परभष, परतकउपगरह, उपगरहकनम,

...

शब्दकोश

अनुवाद

अंतरिक्ष यान.

अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पेस स्टेशन Dainik Bhaskar. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत अंतरिक्ष में सुपर पावर बन गया है। भारत अंतरिक्ष में लाइव सैटेलाइट को मार गिराने की क्षमता रखने वाला चौथा देश बन गया है। इससे पहले यह क्षमता अमेरिका, रूस और चीन के ही पास थी।. पृथ्वी से अंतरिक्ष की दूरी. 31 जनवरी: साल के पहले महीने का आखरी दिन अंतरिक्ष. 31 जनवरी के दिन का अंतरिक्ष अन्वेषण के क्षेत्र में विशेष महत्व है। दरअसल यह अजब संयोग है कि अमेरिका ने 31 जनवरी 1958 को अपना पहला अंतरिक्ष यान अंतरिक्ष में भेजा और वह भी 31 जनवरी का ही दिन था जब नासा ने जीवित प्राणियों पर. अंतरिक्ष यात्रा. अंतरिक्ष यात्री चांद पर छोड़ आते हैं कबाड़, जानें. इसरो के सहयोग से हैदराबाद स्थित बी.एम. बिरला विज्ञान केंद्र ने भारत का प्रथम निजी अंतरिक्ष संग्रहालय बिरला पुरातत्‍वीय एवं सांस्‍कृतिक अनुसंधान संस्‍थान बी.ए.सी.आर.आई. की स्‍वर्ण जयंती के उपलक्ष में आम जनता के लिए एक.


अंतरिक्ष किसे कहते है.

विश्व अंतरिक्ष सप्ताह Vikram Sarabhai Space Centre. अंतरिक्ष की अथाह ऊंचाइयों ने हमेशा से इनसान को आकर्षित किया है और सोवियत संघ द्वारा इस दिशा में शुरूआत किए जाने के बाद अमेरिका इस होड़ में शामिल हुआ। इसके बाद दुनिया के कई बड़े देशों ने अंतरिक्ष के अन्वेषण की दिशा में. अंतरिक्ष खोज. पर्यटकों के लिए अंतरिक्ष में स्पेस होम Shortpedia. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के भुवन द्वारा उपलब्ध कराये गए डिजिटल मानचित्र देखें भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान की वेबसाइट श्रीहरिकोटा में सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र एसएचएआर की वेबसाइट. अंतरिक्ष उड़ान. भारत का पहला मंगलयान अंतरिक्ष में जाने सहित पांच. Washington: अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री क्रिस्टीना कोच और जेसिका मीर ने एक साथ स्पेसवॉक कर इतिहास रच दिया. आधी सदी में करीब 450 स्पेसवॉक में ऐसा पहली बार.


अब पर्यटक अंतरिक्ष से देख सकेंगे पृथ्वी का 360.

अंतरिक्ष के बारे में नीले आसमान, काले बादलों और चांद ​तारों से ज्यादा हम शायद ही कुछ जानते हों. आमतौपर खोजकर्ताओं और शोधकर्ताओं के लिए रिजर्व किए जा चुके अंतरिक्ष के बारे में कई दिलचस्प और अजीब बातें हैं, जिनका आम. इसरो मजबूती से बढ़ते कदम SamayLive. अंतरिक्ष स्पेस स्टेशन अंतरिक्ष में मानव निर्मित ऐसा स्टेशन है, जिससे पृथ्वी से कोई अंतरिक्ष यान जाकर मिल सकता है. अंतरिक्ष स्पेस स्टेशन इसलिए बनाया गया है ताकि वैज्ञानिक लंबे समय तक अंतरिक्ष में काम कर सकें. क्या आप.





अंतरिक्ष में 2020 की शुरुआत में ही इसरो News State.

महिला टीम के स्पेसवॉक करने से पहले तक अंतरिक्ष में हुए 420 स्पेसवॉक में पुरुष अंतरिक्ष यात्री किसी न किसी रूप में शामिल रहे हैं, लेकिन शुक्रवार को 421वें स्पेसवॉक के साथ ही नया इतिहास बन गया. दोनों महिला अंतरिक्ष यात्रियों. अंतरिक्ष विभाग की वेबसाइट National Portal of India. Science and Tech News in Hindi: पहली बार अंतरिक्ष में रहने वाली महिला एस्ट्रोनॉट पुरुषों को पीछे छोड़ कर अंतरिक्ष में भी कर रही है अपना नाम 14 मार्च को अंतरिक्ष में पहुंची थी कोच. अंतरिक्ष में ऐसा रहा है भारत का Times Now Hindi. भारत सरकार के कृषि मंत्रालय एमओए के आदेश पर अंतरिक्ष उपयोग केंद्र ने फसल का रकबा और उत्पादन आकलन नामक परियोजना के अंतर्गत दो दशकों तक उपग्रह सुदूर संवेदन द्वारा महत्वपूर्ण कृषि फसलों के उत्पादन का पूर्वानुमान किया। इसके बाद वर्ष. अंतरिक्ष में स्टेशन बनाने से भारत को क्या फायदा. परंतु यह अतिथि इस रूप में भिन्न था कि इसने चंद्रमा के उस हिस्सा पर अपने कदम रखे जहां आज तक कोई मानव अंतरिक्ष यान नहीं पहुंच सका। हालांकि पूर्व में प्रयास जरूर किगए परंतु सफलता नहीं मिली। दरअसल इस बार चंद्रमा के तथाकथित डार्क.


अंतरिक्ष में बना इतिहास, पहली बार Navbharat Times.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो इंटरनेशनल एकेडमी ऑफ एस्ट्रोनॉटिक्स आईएए और एरोनॉटिक्ल सोसाइटी आफ इंडिया एएसए द्वारा मानव अंतरिक्ष यान कार्यक्रम के संगोष्ठी में विषय मानव अंतरिक्ष यान और अन्वेषण वर्तमान की. अंतरिक्ष हिंदी शब्दमित्र. न्यूयॉर्क. जिन लोगों को स्पेस में जाने का सपना है उनके लिए नासा एक अच्छी खबर लेकर आया है. अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा टेक्सास बेस्ड स्टार्टअप, एक्जियम स्पेस. भारत से पहले पहले अंतरिक्ष में किसने कदम रखा Vokal. मॉस्डैक, अंतरिक्ष उपयोग केंद्र, इसरो, भारत सरकार द्वारा निर्मित और संचालित वेबसाइट. प्रतिक्रिया गोपनीयता नीति डेटा अभिगम नीति निबंधन एवं शर्तें प्रतिलिप्यधिकार नीति संपर्क करें हाइपरलिंक नीति ISRO Space Applications Center.


अंतरिक्ष में गुल StoryWeaver.

व्योममित्र अंतरिक्ष में एक मानव शरीर के क्रियाकलापों का अध्ययन करेगा। इस रोबोट को हाफ ह्यूमनॉइड कहा जा रहा है क्योंकि इसके पैर नहीं हैं। यह रोबोच केवल आगे और बगल में झुक सकता है। यह अंतरिक्ष में कुछ परिक्षण करेगा और इसरो के. Bhilai News: लीगल अस्पेक्टस ऑफ स्पेस टूरिज्म पर अमित. परिभाषा पृथ्वी और दूसरे ग्रहों या नक्षत्रों के बीच का स्थान वाक्य में प्रयोग अंतरिक्ष में उपग्रह भेजे जाते हैं । लिंग पुल्लिंग संज्ञा के प्रकार जातिवाचक गणनीयता अगणनीय समास तत्पुरुष शब्द विन्यास विविधता अन्तरिक्ष एक तरह का.


अंतरिक्ष एवं वायुमंडलीय विज्ञान भौतिक.

। Mission Gaganyaan: भारत जैसा विकासशील देश, जिसकी आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक स्थितियां बहुत विकट हैं, मगर इन सबके बावजूद भारत ने स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद पिछली सदी के सातवें दशक में जिस अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन. मैं एक अंतरिक्ष यात्री बनना चाहता हूं अपने बच्चे. इतिहास में भारत के लिए आज की तारीख अंतरिक्ष में उसकी इस बड़ी कामयाबी से जुड़ी हुई है. जानें अमेरिका क्यों अंतरिक्ष में अपनी फौज का. सोयूज स्पेस कैप्सूल तीन अंतरिक्ष यात्रियों के साथ इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन आईएसएस जाने के लिए आज कजाखस्तान से 60 वर्षीय नेसपोली अबतक अंतरिश्र में कुल 174 दिन बिता चुके हैं और वे टीम के सबसे अनुभवी अंतरिक्ष वैज्ञानिक हैं। हालांकि. एस्ट्रोनॉट, कॉस्मोनॉट और न ही टैक्नॉट कहलाएंगे. अपने जन्मदिन पर क्या करना चाहेंगे आप? क्यों ना अन्तरिक्ष की एक सैकर आएँ! इस कहानी को पढ़कर आपको ख़ूब मज़ा आएगा। आप खुशी से उछल पड़ेंगे पर याद रखियेगा, यदि उछलते समय गुरूत्व बल नहीं रहा तो आप उछल कर हवा में तैरते भी रह सकते हैं! अन्तरिक्ष.





भारत ने इस साल अंतरिक्ष क्षेत्र में छुनए आयाम.

अंतरिक्ष Outer space में एक ताकत के रूप में उभर रहे चीन Chia ने हाल में गठित अमेरिकी America अंतरिक्ष बल को अंतरिक्ष में शांति और सुरक्षा के लिए सीधा खतरा बताया। विदेश मंत्रालय ​foreign Ministry के प्रवक्ता गेंग शुआंग Geng Shuang. अंतरिक्ष पहुंचे राकेश शर्मा से PM ने लल्लन टॉप. भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रमों की शुरुआत सीमित संसाधनों से हुई थी लेकिन आज इसरो अंतरिक्ष की दुनिया की एक बड़ी ताकत है। चंद्रयान 2 की कामयाबी से अंतरिक्ष की दुनिया में वह एक और लंबी छलांग लगाएगा।. ISRO To Send Lady Robot Vyommitra In Unmanned Gaganyaan. भारत से सबसे पहले अंतरिक्ष में राकेश शर्मा ने कदम रखा था. भारत के प्रथम अंतरिक्ष यात्री सुनीता विलियम्स है उसके बाद हरियाणा से सपना चावला करनाल. विश्व की प्रथम महिला अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला थी जिनका जन्म 1 जुलाई 1961 ईस्वी. इस महिला एस्ट्रोनॉट ने अंतरिक्ष में गुजारा Patrika. अंतरिक्ष क्षेत्र में साल 2018 में भारत का बोलबाला रहा. सालभर हुए कुछ प्रमुख अंतरिक्ष कार्यक्रमों पर गौर करें तो भारत ने इस साल कई उपलब्धियां हासिल कीं.


चंद्रमा के डार्क साइड पर चीनी अंतरिक्ष मिशन.

अंतरिक्ष यात्री जेसिका मीऔर क्रिस्टीना कोच ने अंतरिक्ष स्टेशन पर मिजुना सरसों को उगाया दोनों ने अंतरिक्ष स्टेशन में अनुकूल वातावरण बनाया और खेती की दिशा में नई संभावनाओं की खोज की शुरुआत की NASA, astronauts grow. अंतरिक्ष में रचा गया इतिहास पहली बार अमर उजाला. 18 मार्च 1965 को एलेक्सी लियोनोव ने वोस्कोड 2 मिशन के दौरान यान से बाहर निकलकर 12 मिनट नौ सेंकेंड तक अंतरिक्ष में चहलकदमी कर इतिहास रचा था. अमेरिकी अंतरिक्ष बल को चीन ने अंतरिक्ष में शांति. पाकिस्तान की बात करें तो उसे अब यह खतरा सताएगा कि यदि भारत के साथ स्थिति कभी तनावपूर्ण होती है और युद्ध जैसी स्थिति बनती है तो जमीन पर लड़ाई बाद में होगी भारत पहले अंतरिक्ष में पाकिस्तानी उपग्रह को निशाना बनाएगा।. विश्व अंतरिक्ष सप्ताह. Faculty In charge, Dr. C. M. Krishna. Function, Develop a Nano Satellite. व्यावसायिक क्लब. आईईईई एसएई कॉलेजिएट क्लब आईएसटीई छात्र अध्याय मैनिट वेब विकास और इंटरनेट रेडियो क्लब ​डब्ल्यूडीआईआरसी एन. एस. एस. Notice. नोटिस परिपत्र. Notice. टीईक्यूआईपी. Notice.


ISRO की एक और छलांग! भारत की व्योममित्र दिसंबर.

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो के अध्‍यक्ष डा. के सिवन ने आज बेंगलुरू में इसरो मुख्‍यालय में आयोजित संवाददाता सम्‍मेलन में पत्रकारों को पिछले एक साल की इसरो की उपलिब्धियों और मौजूदा वर्ष की योजनाओं की विस्‍तार से. व्योम मित्र वो फ़ीमेल रोबोट जिसे ISRO गगनयान. अंतरिक्ष में कदम रखने वाले पहले भारतीय कौन थे? अपने बचपन के दिनों में हम इस सवाल से जरूर गुजरे थे. जवाब बताते वक्त धड़कन तेज हो जाती. आंखों में चमक. गर्व करने का सुनहरा मौका. ​स्क्वाड्रन लीडर राकेश शर्मा के नाम पर. 13 जनवरी 1949 को पटियाला. अंतरिक्ष में रोज़ होती हैं ये 7 हैरान कर देने वाली. इस पृष्ठ में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान के अंतर्गत अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न की जानकरी यहाँ दी गयी है।.


Space में रचा गया इतिहास, पहली बार सिर्फ महिला.

यूरी गागारिन अंतरिक्ष में जाने वाले पहले इंसान थे. जल्द ही महिलाएं भी पीछे नहीं रहीं. अब तक बहुत सारी महिलाएं अंतरिक्ष में जा चुकी हैं, लेकिन वहां उनका मिशन क्या रहा?. स्पेस स्टेशन क्या है और दुनिया में Jagran Josh. भारत ने उच्च गुणवत्ता वाले संचार उपग्रह जीसैट 30 का फ्रेंच गुयाना से बृहस्पतिवार देर रात सफल प्रक्षेपण किया। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने शुक्रवार को यह जानकारी दी साइंस टेक न्यूज़. भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान आँकडा़ आईएसएसडीसी. अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा टेक्सास बेस्ड स्टार्टअप एक्जियम स्पेस के साथ मिलकर इंटरनेशनल स्पेस सेंटर पर पर्यटकों के लिए स्पेस होम बनाने की तैयारी में है। इसके लिए स्पेस होम की कॉन्सेप्ट फोटो भी जारी की गई हैं। इसमें एक क्रू.


स्मार्ट कार्यक्रम अंतरिक्ष उपयोग केंद्र.

अभी पूर्ण रूप से सक्रिय स्पेश स्टेशन आईएसएस पृथ्वी की निचली कक्षा में मौजूद है, जहां अंतरिक्ष विज्ञानी कई अनुसंधान करते हैं. गगनयान अभियान के लिए अंतरिक्ष यात्रियों के PIB. 2 अप्रैल को 8.5 टन वज़नी चीनी अंतरिक्ष स्टेशन तियांगोंग 1 अपनी कक्षा से बाहर हो गया और ताहिती के उत्तर पश्चिम दिशा में दक्षिण प्रशांत महासागर में गिरकर नष्ट हो गया था। इस घटना के कारण तियांगोंग के पृथ्वी पर विभिन्न स्थानों पर गिरने की.





क्षुद्रग्रह in english.

Tag Archives: क्षुद्रग्रह की मदद Journalist Cafe. स्पेस एक्स के सीईओ एलोन मस्क ने माना कि एस्ट्रॉयड की धमकियों को रोकने के खिलाफ पृथ्वी के पास कोई बचाव नहीं है. उन्होंने.uk को एपोफिस God of Chaos की क्षुद्रग्रह कहानी का जवाब दिया था। नासा ने पहले से ही क्षुद्रग्रह 99942 Apophis. क्षुद्रग्रह किसे कहते हैं. पृथ्वी के पास से गुजरेगा सबसे बड़ा क्षुद्रग्रह Digit. नई दिल्ली, हि.स. । हाल ही में चिंता जतागई थी कि पृथ्वी पर कभी भी कोई क्षुद्रग्रह का हमला हो सकता है और दुनिया तबाह हो सकती है। इसी चिंता से निपटने के लिए नासा क्षुद्रग्रह को उसके मार्ग से हटाने वाली मिसाइल तैयार करना. एक दिन क्षुद्रग्रह पृथ्वी से टकराएगा और अब तक हमारे. वाशिंगटन अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा अपने महत्वाकांक्षी एस्टेरॉयड रिडायरेक्ट मिशन एआरएम के तहत साल 2020 के मध्य तक कई नई क्षमताओं का परीक्षण करेग. क्षुद्रग्रह 316.201 मलाला किन दो ग्रहों के मुख्य. पिछले वर्ष, अंतरिक्ष खोजी यान हयाबुसा 2 ने क्षुद्रग्रह रीयूगू पर गोली से हमला करने जैसे कई अतिरंजित जांच की हैं। लेकिन हाल ही में अब तक की सबसे साहसी आतिशबाज़ी का प्रदर्शन किया गया है। इस खोजी यान ने क्षुद्रग्रह की सतह पर एक छोटा गड्ढा.


बृहस्पति ग्रह के कितने उपग्रह है.

सौरमंडल के ग्रह The Planet Of The Solar System Vivace. मंगल कक्षित्र मिशन एमओएम के मार्स कलर कैमरा एमसीसी ने मंगल ग्रह के उत्तरी ध्रुव के कई चित्र खींचे। अंतरिक्ष उपयोग केंद्र सैक, इसरो, अहमदाबाद द्वारा दिसंबर 16, 2015 से जनवरी 26, 2016 के दौरान पर्यवेक्षित नौ एमसीसी प्रतिबिंबों का प्रयोग कर. सूर्य से ग्रहों का क्रम. Meaning of ग्रह in English ग्रह का अर्थ ग्रह डिक्शनरी. बृहस्पति सूर्य से पांचवाँ और हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा ग्रह है। यह एक गैस दानव है जिसका द्रव्यमान सूर्य के हजारवें भाग के बराबर तथा सौरमंडल में मौजूद अन्य सात ग्रहों के कुल द्रव्यमान का ढाई गुना है। बृहस्पति को शनि, अरुण और वरुण के साथ एक. ग्रहण. धरती से 1200 प्रकाश वर्ष दूर मिला ऐसा ग्रह जिस पर है. साल 2020 में पांच ग्रह हैं जो वक्री होंगे। ये पांच ग्रह मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्और शनि हैं। यहां इन पांचों ग्रहों के वक्री होने की तारीख समय बता रहे हैं। Read latest hindi news ताजा हिन्दी समाचार on vakri grah 2020, planet retrograde 2020,.


हैली धूमकेतु 1986.

Page 1 एक रिमोर्ट इरफान ह्यूमन र मण्डल के अन्य. मंगलगृह की कक्षा में तैनात नासा के तीन मंगलयानों पर कल धूमकेतु की डस्‍ट से टकराकर नष्‍ट होने का खतरा बढ़ गया था. नासा के मंगलयानों ने धूमकेतु की डस्‍ट.


जंतर मंतर दिल्ली HindiSarkariResult.

इसी खगोलीय घटना को आम लोगों को दिखाने के लिए इंदिरा गांधी नक्षत्रशाला और यूपी एमेचर एस्ट्रोनोमर्स क्लब ने घंटाघर पार्क में शाम को 5.30 बजे से कार्यक्रम खगोल के जानकारों के लिए फोटोग्राफी का यह सबसे बेहतर समय होगा। Следующая Войти Настройки. बोस्टन महिलाओं के फुटबॉल टेरियर्स In.Net. खगोलीय घटना के अध्ययन एवं प्रदर्शन के लिए शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में सुबह 11 बजे से बीएन योगी ने कार्यशाला भी आयोजित की है। उस समय विशेष पर विभिन्ना प्रयोगों की फोटोग्राफी एवं विडियोग्राफी भी होगी।.





किस ग्रह का कोई प्राकृतिक उपग्रह नहीं है.

पृथ्वी का प्राकृतिक उपग्रह चंद्रमा Earths Natural. उपग्रह प्लेटफार्मों से भू प्रेक्षण ईओ वैश्विक, क्षेत्रीय और स्थानीय स्तरों पर पर्यावरणीय मूल्यांकन के साथ प्राकृतिक संसाधनों के मानचित्रण, निगरानी और प्रबंधन के लिए एक अनिवार्य उपकरण साबित हुआ है। यह विशेष रूप से बहु मंच.


रॉकेट कैसे बनता है.

रॉकेट 122 मिमी रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन. बता दें कि बीते एक महीने में अमेरिकी दूतावास पर यह तीसरा ऐसा हमला है लेकिन पहली बार रॉकेट सीधे अमेरिकी दूतावास पर गिरे हैं। हमले के समय एक शख्स कैफेटेरिया में था और वह इस घटना में घायल हो गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ग्रीन.


...
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →